उप्र के मदरसों में जल्द ही शुरू होगा ऑनलाइन शिक्षण कार्य:नन्दी

दैनिक कानपुर उजाला

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने अन्य शिक्षा बोर्डों की भांति मदरसा शिक्षा परिषद के अधीन संचालित मदरसों में ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू कराने की स्वीकृति प्रदान की और अब जल्द ही कक्षा एक से आठ, कक्षा 9 से 12 तक एवं कामिल-फाजिल की कक्षाओं में ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू होंगे। राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ एवं हज, नागरिक उड्डयन एवं राजनैतिक पेंशन मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी’ ने आज यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब तक मदरसों को भौतिक रूप से शुरू कराने की स्थिति नहीं बनती है, तब तक नियमित ऑनलाइन पढ़ाई के पठन पाठन की अनुमति होगी। इसके लिए मदरसा शिक्षण परिषद से मान्यता प्राप्त सभी मदरसों को अनुमति प्रदान कर दी गई है। जिसका लाभ हजारों छात्रों को मिलेगा। कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार आ रही कमी को देखते हुए छात्र हित एवं शैक्षिक सत्र को नियमित किए जाने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद से मान्यता/सहायता प्राप्त मदरसों में कक्षा 9 से 12 तक की कक्षाओं व कामिल फाजिल की कक्षाओं में ऑनलाईन कक्षाओं को पुनः संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अथक प्रयास और मार्गदर्शन से आज प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में भारी कमी आई है। उन्होंने कहा कि ट्रिपल टी के अदभुत प्रयोग से प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत 94.7 प्रतिशत है, जिसकी सराहना डबल्यूएचओ ने भी की है। कोरोना संक्रमण के पॉजिटिविटी दर में भारी कमी को देखते हुए ही मदरसों में ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू कराने का निर्णय लिया गया है। श्री नंदी ने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते लगे कोरोना कफ्र्यू के कारण मदरसा बंद होने के कारण अब मदरसों में भी आनलाइन पढ़ाई शुरू होगी। मदरसों का कोर्स पूरा करने के लिए मदरसा ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था काफी सहायक साबित होगी।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की