*शादी से इनकार और समाज में बदनामी के डर से संध्या राजपूत ने की थी आत्महत्या चचेरी बहन समेत दो आरोपी भेजे गए जेल*

दैनिक कानपुर उजाला   

बिठूर थाना क्षेत्र के बैकुंठपुर लिधौरा में बीते सोमवार देर शाम 20 वर्षीय संध्या का शव गांव के बाहर अमरूद के बगीचे में मिला था।पोस्टमार्टम में जहरीला पदार्थ खाने से मौत की पुष्टि हुई थी।मामले में बिठूर पुलिस ने रविवार को चचेरी बहन सुधा और दो आरोपितो अमन, और सोनू ,को न्यायालय में पेश करने के बाद आत्महत्या के लिए उकसाने और मानसिक प्रताड़ना देने के मामले में जेल भेज दिया।थाना प्रभारी अमित कुमार मिश्रा ने बताया अमन और संध्या का करीब डेढ़ साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। संध्या अमन से शादी करना चाहती थी लेकिन अमन इसके लिए तैयार नहीं था।अमन ने बातचीत के लिए संध्या को एक मोबाइल दिया था जिसकी जानकारी चचेरी बहन सुधा ने संध्या के भाई अविनाश को दे दी थी इस पर अविनाश ने संध्या से मोबाइल छीन लिया था।सुधा ने इस बात की जानकारी अपने मित्र सोनू को भी दी थी और सोनू ने  गांव में अमन और संध्या के प्रेम सम्बन्धो की चर्चा कर दी थी।इसी को लेकर संध्या समाज में बदनामी के डर से आहत थी और उसने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली।हत्या के मुकदमे को आत्महत्या के लिए उकसाने में बदल दिया गया है।मुकदमे में दर्ज अन्य आरोपितों की भूमिका की जांच की जा रही है।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की