जनपद की 1040 निगरानी समितियों को पर्याप्त संख्या में मेडिकल किट उपलब्ध कराएं सी.एम.ओ. : जिलाधिकारी

08 जून को टीम - 09 की बैठक करते जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार।

दैनिक कानपुर उजाला
उन्नाव।
 जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार के लिए  टीम - 09 की अध्यक्षता करते हुये कलेक्ट्रेट कार्यालय कक्ष में बैठक की। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों के आकलन के दृष्टिगत कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के संबंध में  प्रो - एक्टिव नीति अपनाई जाने के शासन द्वारा दिए गए निर्देश का अक्षरशः पालन किया जाए। मेडिकल कॉलेज व अस्पतालों में पी.आई.सी.यू. और एन.आई.सी.यू. की स्थापना को तेजी से पूरा किया जाए। सभी मेडिकल कॉलेज में 50 - 50 बेड के पी.आई.सी.यू. / एन.आई.सी.यू. स्थापित किये जाने हैं, इसी तरह जिला अस्पताल और सी.एच.सी. स्तर पर भी मिनी पीकू स्थापित किए जा रहे हैं। इसके लिए 20 जून तक की समय - सीमा तय की गई है। इन सभी जगहों पर ऑक्सीजन की व्यवस्था सुनिश्चित कर लीं जाएं। आने वाले समय किसी भी तरह से आक्सीजन की कोई कमी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने सम्बन्धित को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में बनाये जा रहे आक्सीजन प्लांट के कार्यों में तेजी लायी जाये। जिलाधिकारी ने सी.एम.ओ.  को निर्देशित करते हुए कहा कि होम आइसोलेशन के मरीजों को निगरानी समितियों के माध्यम से मेडिकल किट उपलब्ध कराई जाए। ग्रामीण इलाकों में संचालित स्क्रीनिंग के वृहद अभियान में लक्षणयुक्त अथवा संदिग्ध संक्रमित व्यक्तियों को निगरानी समिति द्वारा तत्काल मेडिकल किट उपलब्ध करायी जाये, इसके लिए निगरानी समितियों को पर्याप्त संख्या में मेडिकल किट उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने कहा कि मरीजों को दवाई, ऑक्सीजन, बेड तथा एम्बुलेंस की कमी न होने पाए। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक वैक्सीनेशन किये जायें। जिला अस्पताल व समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में मरीजों हेतु समस्त सुविधायें उपलब्ध होनी चाहिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कार्यरत 1040 निगरानी समितियों के माध्यम से ग्राम पंचायतों में डोर टू डोर सम्पर्क करते हुये थर्मल स्कैनिंग एवं ऑक्सीमीटर से चेक करते हुये कोरोना के लक्षण वाले व्यक्तियों की पहचान करके उन्हें मेडिसिन किट उपलब्ध करायी जा रही है, एवं ग्राम पंचायतों में व्यापक प्रचार - प्रसार करते हुये कोविड-19 के टीकाकरण हेतु ग्राम वासियों को प्रेरित किया जा रहा है।

Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद