बारिश में अचानक गिरी 70 साल पुरानी बिल्डिंग, भतीजे की मौत, चाचा जख्मी

दैनिक कानपुर उजाला

लखनऊ। लखनऊ में जर्जर हालत वाली एक दो मंजिला इमारत गिर गई. यहां चाचा-भतीजे रहते थे. मलबे में दबने से भतीजे की मौत हो गई है. चाचा की हालत गंभीर है.

लखनऊ में जर्जर हालत वाली इमारत गिरी 
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में देश की आजादी के समय बनी एक जर्जर बिल्डिंग गिर गई, जिसमें दबने से एक शख्स की मौत हो गई वहीं दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया. 70 साल पुरानी इस इमारत के गिरने के बाद एक घंटे से ज्यादा बचाव कार्य चला. मिली जानकारी के मुताबिक, SDRF की बचाव टीम 1 घंटा 20 मिनट के बाद घायलो  को मलबे से निकाल सकी, जिसमें एक की हालत गंभीर है जबकि एक की मौत हो गई है.जर्जर हालत वाली यह दो मंजिला इमारत लखनऊ के थाना वजीरगंज स्थित रिवर बैंक कॉलोनी में स्थित थी, जो कि अचानक ढह गई. 1952 की इस इमारत में ज्ञान त्रिवेदी और उनका भतीजा गौरव त्रिवेदी रहते थे जो कि रायबरेली के रहने वाले हैं. बुधवार को बारिश के वक्त अचानक यह बिल्डिंग गिर गई. उस वक्त ज्ञान और उनका भतीजा अंदर ही थे. 
इलाज के दौरान भतीजे की मौत
गंभीर हालत में दोनों को मेडिकल कॉलेज के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया. यहां इलाज के दौरान गौरव त्रिवेदी की मौत हो गई जबकि चाचा ज्ञान त्रिवेदी सीरियस हालत में अस्पताल में भर्ती हैं. 
SDRF ने मलबे को हटाकर दबे लोगों को बाहर निकाला था 
एसडीआरएफ के कमांडेंट डॉक्टर सतीश कुमार ने बताया कि यह रेस्क्यू ऑपरेशन काफी मुश्किल था. जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि बिल्डिंग काफी जर्जर थी, SDRF के समय पर पहुंचने की वजह से दोनों को बाहर निकाला जा सका था

Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की