डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस बूथों पर हुआ वृक्षारोपण, वैक्सीनेशन कैंप का किया शुभारम्भ

दैनिक कानपुर उजाला

फर्रुखाबाद। भारतीय जनता पार्टी के तत्वावधान में बलिदान दिवस पर डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को याद कर विभिन्य कार्यक्रमों के साथ पौधारोपण किया गया। डॉ. मुखर्जी के बलिदान दिवस के अवसर उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी। नगर पश्चिम के विभिन्न बूथों पर डॉ. मुखर्जी की पुण्यतिथि बलिदान दिवस के रूप में मनाई गई। बूथ 213 बड़ा बंगसपुरा में नगर अध्यक्ष विकास पाण्डेय ने उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर तुलसी का पौधा लगाया।  नगर अध्यक्ष नें कहा कि डॉ. मुखर्जी ने जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त हो उसके लिए आंदोलन चलाया था। एक निशान, एक विधान, एक प्रधान का नारा दिया था। उन्होंने अपना जीवन देश की एकता—अखंडता और जम्मू - कश्मीर को बचाने के लिए समर्पित कर दिया। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी, शिक्षाविद, चिंतक और जनसंघ के संस्थापक थे। वे मानवता के उपासक एवं सिद्धांतवादी थे। डॉ. मुखर्जी देश के प्रथम उद्योग मंत्री थे। राष्ट्रीय हितों की प्रतिबद्धता को अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता मानने के कारण उन्होंने मंत्रिमंडल से त्यागपत्र दे दिया। बहुत कम उम्र में वे कलकत्ता विश्वविद्यालय के कुलपति बन गए थे। महिला मोर्चा अध्यक्ष बबीता पाठक, असलम कुरैशी, रामकिसोर सैनी, नगर मंत्री वीर बहादुर पाल, प्रदीप सक्सेना आदि उपस्थित थे। नगर पूर्वी मंडल के अध्यक्ष राजकुमार वर्मा के नेतृत्व में बूथ संख्या 302 पर सांसद मुकेश राजपुत, दुग्ध संघ अध्यक्ष सत्यपाल सिंह, जिला महामंत्री हिमांशु गुप्ता, कोषाध्यक्ष संजीव गुप्ता व विजय मिश्रा आदि ने पौधारोपण किया। इस दौरान कहा गया कि अगर भारतीय जनता पार्टी को समझना है तो केवल डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन दर्शन को समझकर समझा जा सकता है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार संकट काल में देश की चिंता परिवार भाव से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर रहे हैं  और विपक्ष जिस प्रकार से आज भ्रम फैलाने का काम कर रहा है, उस भ्रम से सभी को बचना है और देश को बचाना है। राजनीतिक पद को पाने को विपक्ष विरोधियों से भी हाथ मिलाने को तैयार है। आज जितने बड़े परिवर्तन हुए वह एक दिनों का काम नहीं है, इसके लिए लम्बा संघर्ष करना पड़ा है। इस अवसर पर बूथ संख्या 303 पर डॉ. रजनी सरीन के द्वारा वैक्सीनेशन कैम्प का शुभारम्भ किया गया। कुल 100 लोगों ने वैक्सीन लगवायी। 

Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की