माँ शाकुम्भरी देवी की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं के आवागमन के कारण लगने वाले जाम से सहारनपुर को मिलेगी मुक्ति

दैनिक कानपुर उजाला

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की अध्यक्षता में शुक्रवार 25 जून को मंत्रिपरिषद द्वारा महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए जिनमें मंत्रिपरिषद ने जनपद सहारनपुर में एन.एच. - 709 बी (चुनहेटी) से अम्बाला रोड होते हुए दिल्ली - यमुनोत्री मार्ग (एस.एच. - 57) के कि.मी. 171.00 (देवला) तक (लम्बाई 19.125 कि.मी.) 04 - लेन बाईपास मार्ग के निर्माण की सम्पूर्ण प्रायोजना की व्यय - वित्त समिति द्वारा अनुमोदित लागत 20022.13 लाख रुपये के व्यय के प्रस्ताव को अनुमोदित कर दिया है। ज्ञातव्य है कि जनपद सहारनपुर के एक ओर हरियाणा राज्य के जिला यमुना नगर एवं अम्बाला और दूसरी ओर उत्तराखण्ड राज्य के जिला देहरादून व हरिद्वार स्थित हैं। जनपद सहारनपुर में राज्य राजमार्ग सं. 57 के कि.मी. 187 से पौराणिक माँ शाकुम्भरी देवी तक शक्तिपीठ आने जाने का एक मात्र रास्ता है। माँ शाकुम्भरी देवी धाम में लगने वाले मेले में हरियाणा, उत्तराखण्ड एवं जनपद मुजफ्फर नगर, शामली, मेरठ आदि से श्रद्धालु इसी मार्ग का प्रयोग करते हुए आते हैं। यह परियोजना जनपद सहारनपुर को जाम से मुक्ति दिलाने एवं माँ शाकुम्भरी देवी की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं हेतु पर्यटन की दृष्टि से अतिमहत्वपूर्ण है।

Popular posts from this blog

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

माध्यमिक विद्यालयों को प्रान्तीयकृत किये जाने के सम्बन्ध में नीति निर्धारण

रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री