न्यायमूर्ति अशोक भूषण की माता पंचतत्व में विलीन

> अंतिम संस्कार के मौके पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे मुख्य न्यायाधीश सहित कई जज और अधिवक्ता  


दैनिक कानपुर उजाला
प्रयागराज। सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति अशोक भूषण की माता कलावती श्रीवास्तव का बुधवार को दिन में रसूलाबाद घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। उनका मंगलवार शाम को  91 वर्ष की अवस्था में देहांत हो गया था। निधन की सूचना पाकर अंतिम दर्शन के लिए उनके आवास और रसूलाबाद घाट पहुंचकर हाईकोर्ट के कई जज और अधिवक्ताओं के शहर के तमाम गणमान्य नागरिकों ने श्रद्धांजलि दी। शव यात्रा उनके हाशिमपुर रोड स्थित आवास से दिन में 2 बजे प्रारंभ हुई। मुखाग्नि उनके छोटे बेटे हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल भूषण ने दी। मुख्य न्यायाधीश संजय यादव, वरिष्ठ न्यायमूर्ति एम. एन. भंडारी, न्यायमूर्ति नीरज तिवारी, न्यायमूर्ति वाई. के. श्रीवास्तव, न्यायमूर्ति गौतम चौधरी, न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा, न्यायमूर्ति सिद्धार्थ, न्यायमूर्ति दीपक वर्मा सहित कई न्यायमूर्तिगण और वरिष्ठ अधिवक्ता राधाकांत ओझा, राकेश पांडेय, अमरेंद्र नाथ सिंह, अशोक खरे, प्रभाशंकर मिश्र, एन. के. चटर्जी, एस. सी. मिश्र, मृत्युंजय तिवारी, रंजन श्रीवास्तव आदि ने दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि दी।

Popular posts from this blog

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

माध्यमिक विद्यालयों को प्रान्तीयकृत किये जाने के सम्बन्ध में नीति निर्धारण

रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री