राष्ट्रपति आज डाॅ. अम्बेडकर सांस्कृतिक केन्द्र का शिलान्यास करेंगे

दैनिक कानपुर उजाला

लखनऊ। भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द आज मंगलवार 29 जून को ऐशबाग  लखनऊ में 1.34 एकड़ में निर्मित होने वाले डॉ. भीमराव आम्बेडकर स्मारक एवं सांस्कृतिक केन्द्र का शिलान्यास करेंगे। कार्यक्रम के अवसर पर पूर्वाह्न 11 : 30 बजे लोकभवन के मुख्य सभागार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी उपस्थित रहेंगी। हाल ही में शुक्रवार 25 जून को मंत्रिपरिषद द्वारा महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए जिनमें मंत्रिपरिषद ने वित्त (लेखा) अनुभाग-2 के अधीन ऐशबाग ईदगाह के सामने मौजा भदेवा, लखनऊ की नजूल भूमि खसरा संख्या - 232, 233, 234, 236 तथा 237 का अंश भाग क्षेत्रफल 5493.52 वर्ग मीटर रिक्त भूमि, जिसका स्वामित्व राज्य सरकार में निहित है, को डाॅ. आम्बेडकर सांस्कृतिक केन्द्र की स्थापना हेतु संस्कृति विभाग के पक्ष में कतिपय शर्तों एवं प्रतिबंधों के अधीन निःशुल्क आवंटित / हस्तान्तरित किए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की थी। भारत सरकार द्वारा गवर्मेन्ट ग्राण्ट एक्ट, 1895 को रिपील कर दिए जाने के दृष्टिगत आवास एवं शहरी नियोजन अनुभाग - 4 के शासनादेश के माध्यम से नजूल भूमि के प्रबन्धन, निस्तारण तथा फ्री होल्ड किए जाने सम्बन्धी समस्त शासनादेशों को स्थगित किए जाने के फलस्वरूप मंत्रिपरिषद के अनुमोदन से विभिन्न विभागों को आवंटित / हस्तान्तरित नजूल भूमि के सम्बन्ध में किसी प्रकार के संशोधन / परिवर्धन तथा भविष्य में विभिन्न विभागों को नजूल भूमि के आवंटन / हस्तान्तरण हेतु मुख्यमंत्री जी को अधिकृत किया गया है। प्रमुख सचिव, संस्कृति विभाग द्वारा अवगत कराया गया है कि संस्कृति विभाग द्वारा डाॅ. आम्बेडकर सांस्कृतिक केन्द्र की स्थापना की जानी है। इसमें लगभग 750 व्यक्ति की क्षमता का प्रेक्षागृह, पुस्तकालय एवं शोध केन्द्र, छायाचित्र दीर्घा व संग्रहालय, बैठकों व आख्यान हेतु मल्टीपरपज सभागार, कार्यालय, भारत रत्न डाॅ. भीमराव अम्बेडकर जी की मूर्ति की स्थापना एवं लैण्डस्केपिंग, डाॅरमेट्री, कैफेटेरिया, शौचालय, पार्किंग व अन्य जनसुविधाएं विकसित की जाएंगी। इस पर प्रारम्भिक आगणन के आधार पर 45.04 करोड़ रुपये की लागत आएगी। संस्कृति विभाग द्वारा डाॅ. आम्बेडकर सांस्कृतिक केन्द्र की स्थापना हेतु जनपद लखनऊ में 02 से 03 एकड़ भूमि उपलब्ध कराए जाने का अनुरोध भी किया गया था।

Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की