रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री

सुल्तानपुर में महाराष्ट्र से वापस आये एक ही परिवार के 20 कोरोना संक्रमित मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि संबंधित ब्लॉक में ट्रेसिंग और टेस्टिंग तेजी से की जाए, जिससे संक्रमितों की पहचान की जा सके।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी 11 जुलाई 2021 को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा करते हुए।    

दैनिक कानपुर उजाला
लखनऊ।
 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि कोविड नियंत्रण के सम्बन्ध में प्रदेश सरकार द्वारा अपनायी जा रही रणनीति अत्यन्त कारगर सिद्ध हो रही है। उन्होंने कहा है कि कोरोना की रोकथाम के लिए निर्धारित प्रोटोकाॅल का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने कोरोना संक्रमण की नियंत्रित स्थिति के बावजूद कोविड टेस्टिंग को पूरी सक्रियता से जारी रखने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी रविवार 11 जुलाई को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि विगत 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 125 नए मामले सामने आये हैं। इसी अवधि में 134 संक्रमित व्यक्तियों को सफल उपचार के बाद डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 1,594 है। मुख्यमंत्री को यह भी अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में प्रदेश में 02 लाख 40 हजार 20 कोविड टेस्ट किये गये हैं। राज्य में अब तक 06 करोड़ 06 लाख 17 हजार 11 कोरोना टेस्ट किये जा चुके हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.6 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना टीकाकरण के प्रति लोगों को सतत जागरुक किया जाए। कोविड टीकाकरण की सुगमता के लिए ऑनलाइन स्लाॅट बुकिंग को प्रोत्साहित किया जाए। इससे वैक्सीनेशन सेण्टर पर भीड़ एकत्र नहीं होगी। उन्होंने कहा कि गांवों में काॅमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से कोविड टीकाकरण हेतु प्रदान की जा रही निःशुल्क पंजीकरण सुविधा का व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाए। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि अब तक 03 करोड़ 71 लाख से अधिक को वैक्सीन डोज एडमिनिस्टर की जा चुकी हैं। उन्हें यह भी अवगत कराया गया निगरानी समितियों द्वारा लक्षणयुक्त एवं संदिग्ध संक्रमित व्यक्तियों की स्क्रीनिंग एवं मेडिसिन किट वितरण का कार्य सुचारु रूप से चल रहा है। बच्चों हेतु तैयार करायी गई मेडिसिन किट का वितरण भी कराया जा रहा है। प्रदेश में चिकित्सा सुविधाओं के सुदृढ़ीकरण का कार्य तेजी से संचालित किया जा रहा है। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रदेश के सभी सी.एच.सी. व पी.एच.सी. में आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के 29 जनपदों में संक्रमण का एक भी मामला नहीं आया है और 45 जनपदों में इकाई अंक में कोरोना संक्रमित मरीज आये हैं, जो यह दर्शा रहा है कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि कोरोना की स्थिति नियंत्रित होने के बावजूद भी कोरोना के प्रति सतर्कता बरती जाए व कोविड प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत दिवस जनपद सुल्तानपुर में 20 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। यह सभी संक्रमित मरीज एक ही परिवार से सम्बन्धित हैं, जो महाराष्ट्र से वापस आये हैं। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित ब्लाॅक में ट्रेसिंग और टेस्टिंग तेजी से की जाए, जिससे संक्रमितों की पहचान की जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी जनपदों में बिजली की सुचारु आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। बिजली की आपूर्ति निर्धारित रोस्टर के अनुरूप की जाए।

Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद