सिविल कोर्ट,राष्ट्रीय लोक अदालत में 19 वाद निस्तारित

दैनिक कानपुर उजाला

घाटमपुर। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशन में कोविड-19 महामारी गाइडलाइन का पालन करते हुए, सिविल जज जूनियर डिविजन न्यायालय में सिविल जज जूनियर डिविजन प्रवीण त्रिपाठी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसमें धारा 290 आईपीसी (ठेलिया चालान) के 12 मुकदमे, धारा 323 लड़ाई झगड़े के दो मुकदमे, धारा 24 /25 बाट माप अधिनियम के तीन मुकदमे, तथा प्रकीर्ण वाद रिस्टोर के दो मुकदमे कुल 19 वादों का निस्तारण कर 21 हजार एक सौ रुपया समन शुल्क के रूप में वसूला गया। सिविल जज जूनियर डिवीजन प्रवीण त्रिपाठी ने कहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत में वाद कारियों को अपने दाण्डिक समनीय वादों/ मामलों को निस्तारित कराकर अवसर का लाभ उठाना चाहिए तथा सस्ता एवं सुलभ न्याय पाना चाहिए। जिससे वह अपने वक्त और पैसे की बचत कर सकते हैं।

Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद