*बिजली के तार की चपेट में आकर भैंस की मौत

 

*आक्रोशित ग्रामीणों ने लगाया जाम* 

दैनिक कानपुर उजाला
घाटमपुर।सांढ़ थाना क्षेत्र के बारीगांव में टूटे बिजली के तार की चपेट मे आई भैंस की मौके पर ही मौत हो गई।
आक्रोशित ग्रामीणों ने बिजली विभाग की लापरवाही का आरोप लगाकर  रोड जाम कर दिया।प्राप्त जानकारी
 के अनुसार साढ़ थाना क्षेत्र की भीतरगांव चौकी क्षेत्र के बारीगांव में उस वक्त हड़कंप मच गया।जब 11हजार वोल्ट की हाईटेंशन का तार टूट कर  कीमती भैंस के ऊपर गिर जाने से भैंस की मौके पर ही मौत हो गई। बगल में बना मकान भी करेन्ट की चपेट में आ गया।जिससे घर के बिजली बोर्ड, कूलर, टीवी, पंखा आदि कीमती सामान जल गए। ग्रामीणों ने कहा कि बिजली विभाग की लापरवाही के चलते जर्जर  11हजार वोल्ट के तार मकान के ऊपर से निकले हुए है।जिससे आए दिन जर्जर तार टूटने से घटनाएं होती रहती है। बताया जाता है कि बारी गांव निवासी वंश कुमार तिवारी पुत्र नागेली प्रसाद की कीमती भैंस रोजाना की तरह पशु बाड़े में बंधी थी।सुबह के वक्त अचानक 11हजार वोल्ट का जर्जर तार टूटकर भैंस के ऊपर गिरा।जिससे भैंस की तड़प तड़प कर मौत हो गई।वही जर्जर तार जो कि पास में कमलेश तिवारी की छत से गुजरा हुआ था।तार टूट कर उसकी छत मे गिरा। जिससे घर के सदस्य करंट की चपेट में आने से बाल बाल बच गये पर अचानक हाई वोल्टेज होने के कारण घर में बिजली से चलने वाले  उपकरण कूलर ,पंखा, टीवी आदि सामान  जलकर नष्ट हो गया। इस घटना की सूचना गांव में पहुंचते ही भारी संख्या में पहुंचे लोगों ने रोड को जाम कर दिया। और बिजली विभाग की लापरवाही का आरोप लगाते हुए मुआवजे की मांग  करने लगे। सूचना पर भीतरगांव चौकी इंचार्ज विनोद कुमार मिश्रा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर जाम लगाने वाले लोगों को समझा-बुझाकर बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने जाम खुलवाया। सूचना पर पशु विभाग एवं बिजली विभाग के कर्मचारियों ने जांच पड़ताल करने के बाद आगे की कार्यवाही करने का आश्वासन देते हुए उन्हें शांत किया। मौके पर में जुटे ग्रामीणों ने बताया कुछ माह पूर्व इसी जगह पर दो भैंसों की पहले भी मौत हो चुकी है।

Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद